बहुत कम लोग होते हैं जो आलोचक होकर भी लोगों के प्रिय होते हैं। वे जिनकी आलोचना करते हैं उन्हीं के दिलों पर राज भी करते हैं। जिन्होंने आलोचना को नई पहचान दिया, इस विधा को नई ऊंचाई दी। ऐसे महान पुरोधा और प्रख्यात समालोचक, आलोचक डॉ नामवर सिंह अब […]