कुछ लम्हों के , एहसास बाकी हैं । खुले है जिंदगी के आधे पन्ने, अभी तो जिंदगी के सारे राज़ बाकी हैं।। ना तुम हो गुनाहगार ,ना हमने कोई ख़ता की है । फिर भी कुछ सज़ा है और सुनने के लिये कई इल्ज़ाम बाकी है ।। कुछ ………. धुन […]

अब मेरे पंख मेरे साथ नहीं अब क्या रोऊं मैं, रूह भी रो गई उस दिन मेरी । कुछ सांस बाकी है, वैसे जान तो चली गई उस दिन मेरी ।। हाँ नफरत है मुझे ,उन सारी परियों की कहानी से । दुनिया में जो बची नहीं, वहसी,दरिंदो की जुबानी […]

Breaking News

MY TIMES TODAY
Right Menu Icon