अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस ने UN में मसूद को ब्लैकलिस्ट करने का रखा प्रस्ताव

अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में जैश-ए-मोहम्‍मद के सरगना को ब्‍लैक लिस्‍ट करने के लिए एक प्रस्‍ताव पेश किया। इस प्रस्‍ताव में कहा गया है कि जैश ने ही भारतीय अर्द्धसैनिक बल सीआरपीएफ के काफिले पर हमला किया था।

अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस ने 15 सदस्यीय संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की समिति से कहा है कि वह पाक स्थित आतंकी समूह जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को हथियार बैन, वैश्विक यात्रा पर प्रतिबंध और संपत्तियों को फ्रीज करे।

जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र की आतंकी सूची में शामिल करने का यह तीसरा प्रयास है। इससे पहले चीन दो बार साल 2016 और साल 2017 में आतंकी मसूद अजहर के ऊपर बैन लगाने को लेकर रोड़ा अटका चुका है। वहीं, आतंकी संगठन ने साल 2001 में खुद को आतंकी सूची में शामिल कर लिया था। संयुक्त राष्ट्र परिषद के पास तीन देशों के अनुरोध पर विचार करने के लिए 10 दिन हैं।

You may also like...

MY TIMES TODAY
Right Menu Icon