Warning: sprintf(): Too few arguments in /home/bioinfor/public_html/mytimestoday.com/wp-content/themes/default-mag/assets/libraries/breadcrumb-trail/inc/breadcrumbs.php on line 254

पत्रकार विनोद वर्मा की गिरफ्तारी पर इतना हंगामा क्यों मचा है


माय टाइम्स टुडे.शनिवार,रायपुर।छत्तीसगढ़ पुलिस ने बीबीसी और अमर उजाला में वरिष्ठ पदों पर रह चुके पत्रकार विनोद वर्मा को उगाही के आरोप में शुक्रवार को सुबह साढ़े तीन बजे उनके ग़ाज़ियाबाद स्थित आवास से गिरफ़्तार कर लिया.इस गिरफ्तारी के बाद पुलिस की भूमिका पर सवाल उठने लगा है. सत्ता पक्ष और विपक्ष एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगा रहे है.

सूत्रों के मुताबिक विनोद वर्मा वर्तमान समय में कांग्रेस मीडिया सेल से जुड़े हुए थे. अगले साल छतीसगढ़ में चुनाव भी होने हैं, ऐसे बीजेपी के नेता को फंसाना और मामले को सियासी रंग देना भी इस विरोध का एक हिस्सा है.

छत्तीसगढ़ पुलिस के मुताबिक वर्मा पर पोर्न सीडी रखने और ब्लैकमेलिंग करने का आरोप है. छत्तीसगढ़ के जिस मंत्री की सीडी होने का दावा किया जा रहा है, उस मंत्री ने सामने आकर सीडी को फर्जी करार दिया. लोक निर्माण कार्य मंत्री राजेश मूणत ने इस पूरे प्रकरण को उन्हें बदनाम करने की साजिश बताया. विपक्षी कांग्रेस ने राजेश मूणत से इस प्रकरण में इस्तीफा मांगते हुए शनिवार को रायपुर में विशाल विरोध प्रदर्शन का ऐलान किया है. आम आदमी पार्टी (AAP) के कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को राजेश मूणत के बंगले पर जाकर उनकी नेम प्लेट पर कालिख पोत दी. छत्तीसगढ़ पुलिस का कहना है कि उसने विनोद वर्मा के घर से 500 सीडी बरामद की है. पुलिस ने बताया कि विनोद वर्मा को 506 (आपराधिक धमकी) और धारा 384 (जबरन वसूलनी/ब्लैकमेलिंग) के आरोपों के तहत गिरफ़्तार किया गया है. पुलिस के अनुसार, गुरुवार दोपहर में रायपुर के पंढरी थाने में इस संबंध में एक एफ़आईआर दर्ज हुई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

सफाई के नाम पर दिखावा ठीक नहीं साहब

Sat Oct 28 , 2017
माय टाइम्स टुडे.शनिवार,रायपुर।छत्तीसगढ़ पुलिस ने बीबीसी और अमर उजाला में वरिष्ठ पदों पर रह चुके पत्रकार विनोद वर्मा को उगाही के आरोप में शुक्रवार को सुबह साढ़े तीन बजे उनके ग़ाज़ियाबाद स्थित आवास से गिरफ़्तार कर लिया.इस गिरफ्तारी के बाद पुलिस की भूमिका पर सवाल उठने लगा है. सत्ता पक्ष […]