भोपाल, 07 दिसंबर।माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय की ओर से आयोजित दो दिवसीय ज्ञान संगम के उद्घाटन सत्र के विशिष्ट अतिथि एवं उच्च शिक्षा मंत्री श्री जयभान सिंह पवैया ने कहा कि सभ्यताएं युग के अनुसार बदलती रहती हैं किंतु संस्कृति कभी नहीं बदलती। संस्कृति का अर्थ है- जीवन […]

भोपाल, 07 दिसंबर।भारतीय दृष्टि समूची सृष्टि को ईश्वर ही मानती है। मनुष्य मात्र में ही नहीं, अपितु प्रकृति के प्रत्येक तत्व- पेड़-पौधे, पक्षी, ग्रह-नक्षत्र, पृथ्वी, समुद्र एवं पहाड़, सबमें ईश्वर का ही अंश है। सबमें एक ही ब्रह्म है। इसलिए भारतीय ज्ञान परंपरा में सबके साथ आत्मीय संबंध देखे गए […]