Posted in News

कोलकता बना मिनी लंदन : माता रानी पहनी 22 किलो सोने की साड़ी


 mytimestoday. दुर्गा पूजा और कोलकाता की बात न हो ऐसा हो ही नहीं सकता है। इस अवसर में कोलकाता का अलग ही रंग होता है। इस बार यहां पर 3000 पंडाल लगाएं गए है।वैसे तो इस बार कोलकाता में बिग बेन, महिष्पति, बंकिघम पैलेस के दर्ज में पंडाल लगाएं है, लेकिन इतना ही नहीं ऐसा और भी कुछ हुआ जिसके कारण कोलकाता का बकिंघम पैलेस चर्चा में आ रहा है। संतोष मित्रा चौराहे पर बने इस पांडाल को बकिंघम पैलेस का रूप दिया गया है जिसमें लंदन ब्रिज, बिग बेन और लंदन आई भी नजर आएगी। सिर्फ इतना ही बकिंघम पैलेस का इससे पहले कभी इतना सुंदर नकल नहीं बना है। इस पैलेस के अंदर ही मां दुर्गा का पंडाल लगाया गया है। पंडाल में मौजूद सभी देवी देवताओं ने अग्निमित्रा पॉल द्वारा डिजाइन ड्रेस पहनी हैं। उसमें प्रमुख मां दुर्गा की मूर्ती की साड़ी की कीमत 6.5 करोड़ रुपए है। इस साड़ी पर 22 कैरट से भी ज्यादा सोने का प्रयोग किया गया है। ये अब तक की सबसे सुंदर साड़ी मानी जा रही है जो मां दुर्गा की मूर्त को पहनाई गई है। इस साड़ी को बनाने के लिए कलकत्ता के करीब 50 डिजाइनर्स की मेहनत लगी है। पूजा कमेटी के अध्यक्ष प्रदीप घोष ने इंडियन एक्सप्रेस डॉट कॉम को बताया कि इस बार की दुर्गा पूजा में वो कुछ अलग करना चाहते थे, इसलिए उन्होंने और उनके बेटे सेजल घोस जो पूजा कमेटी के सचिव हैं उन्होंने ये सुझाव दिया।

साड़ी पर बना है कीमती नगों से जड़ा मोर: 

मां दुर्गा की ये साड़ी शुद्ध 22 कैरट सोने से बनी है और इसमें 22 किलो से ज्यादा सोने का इस्तेमाल हुआ है। इसको बनाने वाले कलाकार बंगाल से ही हैं। एक बेहतरीन साड़ी जिसपर सुंदर एम्ब्रोइडरी की गई है। सिर्फ इतना ही नहीं फूल बने मोती, तितलियां, पक्षी और एक बड़ा मोर कीमती नगों को साड़ी पर जड़ा गया है। इसपर मीनाकारी का भी काम किया गया है। इसे बनाने में 50 लोगों को करीब डेढ़ महीने का वक्त लगा। पूजा कमेटी के अध्यक्ष प्रदीप घोष में बताया कि उन्होंने कई देवी देवताओं की मूर्तियों को सोने के गहने और सोने की जरी की साड़ी पहने देखा है लेकिन अब तक उन्होंने उनकी पूरी किसी भी ड्रेस को सोने से बना नहीं देखा है।