Close

इंदौर. पुलवामा में शहीद हुए जवानों की सहायता के लिए 8 साल की एक बच्ची ने अपनी गुल्लक दान की है। बच्ची का नाम अनेरी पेतदार है।  इंदौर के सिलिकॉन सिटी में रहने वाली अनेरी कक्षा दूसरी में पढ़ती है।  बच्ची ने पिछले 6 महीने में जो राशि जमा किया था वह बुधवार को शहीदों के परिजनों की सहायता के लिए दे दिया। उसने पैसे इंदौर कलेक्टर को सौंपे दिए। अनेरी ने कहा कि उसे लोगों की सहायता करना अच्छा लगाता है और देश के जवानों पर हुए आतंकी हमले से वह दुखी है। बच्ची ने कहा कि मैने पिछले 6 माह में अपने जेबखर्च के पैसे में से जो बचत की थी वह पूरी राशि गुल्लक सहित शहीदों की सहायता के लिए दान दी है।

बता दें कि शहीदों के परिजनों और उनके घर की स्थिति को टीवी पर देखने के बाद  अनेरी ने अपने माता-पिता से कहा कि वो भी शहीदों के परिजनों की मदद करना चाहती है, तो कैसे करे। इस पर उसने खुद ही अपनी गुल्लक दान करने की बात कही। महज 8 साल की बेटी के मुंह से ये शब्द सुनकर माता-पिता की आंखों में भी आंसू आ गए और उन्होंने तुरंत कलेक्टर कार्यालय से इस बारे में संपर्क किया। फिर कलेक्टर से मिलकर अपनी गुल्लक दान कर दी।

Close

Lifestyle

error: Content is protected !!