राम मंदिर आस्था का विषय है, न्यायालय का नहीं : स्वामी वासुदेवाचार्य

अयोध्या। रविवार को अयोध्या में आयोजित धर्म सभा में बोलते हुए जगद्गुरु स्वामी वासुदेवाचार्यजी ने कहा कि कुछ लोगों को लगता है कि हम सो गए हैं। लेकिन हिंदू सोये नहीं है। उन्होंने कहा कि हमारी आंख खुलेगी तो राजा मुचकुंद की तरह खुलेगी।

वासुदेवाचार्य जी ने कहा कि मोदी को अब देर नहीं करना चाहिए। ऐसा मौका बार – बार नहीं आएगा, इसलिए उन्हें मंदिर निर्माण शुरू करना चाहिए। संत समाज का आशीर्वाद उनके साथ है। उन्होंने कहा कि राम मंदिर का निर्माण जल्द से जल्द होना चाहिए। राम मंदिर आस्था का विषय है, न्यायालय का नहीं। वासुदेवाचार्य ने यह भी कहा कि मूल संविधान के पहले प्रति राम, लक्ष्मण और माता जानकी की तस्वीर छपी थी।

आपको बता दें कि रविवार को अयोध्या में वीएचपी की तरफ से विशाल धर्म सभा का आयोजन किया गया। इस सभा में देशभर के संत और लाखों की संख्या में राम भक्त शामिल हुए थे और राम मंदिर निर्माण की हुंकार भरी थी।

You may also like...

MY TIMES TODAY
Right Menu Icon