तू दूर है इन आंखों से पर ओझल नहीं : कुमार इंद्रभूषण

MY TIMES TODAY. 

तू दूर है मुझसे,
मगर इन आंखों से ओझल नहीं,
तेरी याद ना आये मुझे,
ऐसा कोई पल नहीं,
याद आते हैं वो लम्हें वो सारी बातें,
कॉलेज के दिन और हॉस्टल की रातें,
वो तेरे हसीन् नखड़े,
बात – बात पे झगड़े,
वो तेरा रूठना,
और मेरा मनाना,
वो कयामत का गुस्सा,
याद आ रहा है आज एक – एक किस्सा,
ये मचलती घटायें,
ये बरसता सावन,
बावला हुआ मैं,
भींग रहा है ये मेरा मन,
कह रही है मुझसे मेरी वफाएं,
काश वो दिन फिर लौट आये ।।  MR.IBM

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!